हिमाचल प्रदेश के विश्वविद्यालय के इस शैक्षणिक सत्र में लगभग 40 प्रतिशत सीटें खाली रह गईं। केंद्रीय विश्वविद्यालय में स्नातकोत्तर और स्नातक विषयों की सीटों की संख्या 1002 है, जिनमें कुल 600 सीटें के दाखिले ही हुए हैं।

MA में एक भी विद्यार्थी ने नहीं लिया दाखिला, सारी सीटें खाली

एमए में एक भी विद्यार्थी ने दाखिला नहीं लिया है। बीते वर्ष भी एमए में सिर्फ दो सीटें ही भरी थीं। एमए न्यू मीडिया में इस बार भी 33 में से केवल दो सीटें ही भरी हैं। सीयू में स्नातक और स्नातकोत्तर में पांच विषय में इस बार दस से भी कम ही सीटें भरी गई हैं।


792 सीटों में से 270 सीटें के स्थान अभी भी खाली

इसके अलावा बीएफए (मूर्ति कला) में पांच, बीए संस्कृत में छह, एमएससी सीबीबी में सात सीटें भरी हैं। स्नातकोत्तर विषयों के 22 विभागों की 792 सीट थी जिस में से 270 सीटें के स्थान अभी भी खाली हैं।

केंद्रीय विश्व विद्यालय के उपकुलपति डॉ. एचआर शर्मा ने बताया कि अभी कुछ विषयों में छात्रों के दस्तावेजों की जांच प्रक्रिया हो रही है। कई विषयों में खाली सीटें भरने के लिए विद्यार्थियों को ओपन कॉल भी किया जा रहा है। शायद जिस से कुछ एडमिशन और हो सके।

Write A Comment