हिमाचल-हरियाणा की सीमा के साथ लगते झाड़माजरी के पास शाहपुर में डायरिया की झकड़ में आने से अब तक दो प्रवासी बच्चों की मौत हो गई, इसके साथ ही 50 के लगभग बच्चे बीमार हो गए हैं। शाहपुर में झुग्गी बस्ती में प्रवासी रहते हैं।

बीमारी का कारण बताया जा रहा प्राकृतिक स्रोत से पेयजल

इस बीमारी का कारण प्राकृतिक स्रोत से पेयजल बताया जा रहा हैं। स्थानिय क्षेत्र से बद्दी अस्पताल पास पड़ता है जिस कारण मिरिजो को वंही लाया जाया रहा है। कुछ लोंगो का उपचार इसी अस्पताल में चल रहा है। जबकि कुछ को नालागढ़ अस्पताल रेफर किया गया।


दूषित पानी पीने से दो वर्ष के प्रहलाद और तीन वर्ष की भावना की हो गई मौत

स्वास्थ्य विभाग की टीम ने पानी के सैंपल ले लिए हैं, मिली जानकारी के अनुसार शाहपुर गांव में प्रवासी झुग्गियों में रहते हैं। इनकी संख्या लगभग 200 है। मिली जानकारी के अनुसार दूषित पानी पीने से दो वर्ष के प्रहलाद और तीन वर्ष की भावना की मौत हो गई है। इन बच्चों के परिवार यूपी के मुरादाबाद से हैं। यहाँ पर काम क लिए झुग्गियों में गुजर बसर करते हैं।

Author

Comments are closed.