Press "Enter" to skip to content

महाराणा प्रताप सागर (Pong Dam) का जलस्तर खतरे के निशान पर पहुंचा, BBMB ने जारी किया अलर्ट

हिमाचल प्रदेश के ऊपरी इलाकों में हो रही लगातार बारिश के कारण जिला कांगड़ा का पौंग डैम (महाराणा प्रताप सागर ) का जलस्तर खतरे के निशान करीब पहुंच गया है। मौसम विभाग की मानें तो अगले दो दिन में भारी बारिश की संभावना है , जिस के चलते वाटर लेवल 1387 से पार पहुंचने की उम्मीद जताई जा रही है।

इस आशंका के चलते बीबीएमबी प्रशासन (Bhakra Beas Management Board) ने डीसी कांगड़ा सहित अन्य अधिकारियों को अलर्ट कर दिया है व एक पत्र जारी कर इस बारे सूचना दे दी है। नीचे पत्र देखें :-

BBMB-Notice

ज्ञात सूत्रों से पता चला है कि आज मंगलवार सुबह 6 बजे तक पौंग डैम का जलाशय का वाटर लेवल 1386.47 फीट पहुंच चुका है, जबकि इनफ्लो 30000 क्यूसेक पाया गया है। वर्तमान में टरबाइनों के माध्यम से लगभग 12000 क्यूसेक पारी छोड़ा जा रहा है। आज हुई बीबीएमबी तकनीकी कमेटी की बैठक में निर्णय लिया है कि पौंग जलाशय को 1387 फीट से ज्यादा नहीं भरा जा सकता है, इससे बड़ा हादसा हो सकता है व जान माल का खतरा हो सकता है।

मौसम विभाग के पूर्वानुमान के अनुसार अगर अगले दो दिन अच्छी बारिश होती रही तो पौंग डैम का वाटर लेवल 1387 क्रॉस कर सकता है, इसके चलते पानी छोड़ने का निर्णय लिया है । दो दिन बाद 26000 क्यूसेक पानी छोड़ा जाएगा। इसमें 14000 स्पिलवे और 12000 टरबाइन के माध्यम से छोड़ा जाएगा ।

वहीं पौंग डैम से पानी छोड़े जाने से पंजाब के तलवाड़ा, मुकेरियां,दसूआ,मंड और गुरदारसपुर इलाकों में प्रभाव पड़ेगा, बीबीएमबी प्रशासन (Bhakra Beas Management Board) ने पौंग डैम किनारे बसने वाले सभी लोगों को अलर्ट रहने की हिदायत दी है। ।