Himachal News Shimla

ब्रिटिश महिला आई थी शिमला घूमने और यहां मिल गया उसको नायाब तोहफा

The ridge shimla

जानकारी के अनुसार यह महिला अपने पति के साथ भारत घूमने आई थी, यह महिला इंग्लैंड के साउथेम्पटन शहर की निवासी है, इस महिला का नाम जेलियन है, जिन को शिमला में नायाब तोहफा मिला। यह तोहफा उनकी मां की यादों से जुड़ा बताया जा रहा है। जो कई सालो से सालों से नगर निगम के रिकॉर्ड में दर्ज था। पूछताछ के बाद जेलियन ने बताया की उनकी मां अब इस दुनिया में नहीं हैं, लेकिन उन्होंने कहा की वो उनके जन्म प्रमाण पत्र को फ्रेम बनाकर रखेंगी।

106 साल पहले अंग्रेजी शासनकाल के दौरान शिमला में हुआ था, जेलियन की मां का जन्म

इस ब्रिटिश महिला जेलियन की मां का जन्म 106 साल पहले अंग्रेजी शासनकाल के दौरान शिमला में हुआ था। इन का नाम पीएम स्वॉयर था। जेलियन ने नगर निगम अधिकारियों को बताया कि उनकी मां और नाना कई साल शिमला में रहे थे। जेलियन की एक छोटी बेटी है, जो दिल्ली में रहती है। पिछले हफ्ते हि जेलियन पति के साथ भारत आईं। और कुछ समय दिल्ली में बेटी के साथ कुछ दिन बिताने के बाद उन्होंने शिमला आने का प्लान बनाया। उन्होंने यह पहले ही सोचा था की उन कि मां से जुड़ी कुछ यादें शिमला में मिलेंगी। जिस आशा को लेकर वो वह शिमला में शनिवार दोपहर निगम कार्यालय पहुंच गईं।

नगर निगम के पास साल 1870 से लेकर जन्म और मृत्यु का रिकॉर्ड मौजूद है

यहां संयुक्त आयुक्त अजीत भारद्वाज और निगम स्वास्थ्य अधिकारी से पूछा कि उनकी मां शिमला में पैदा हुई थीं, जन्म का कोई रिकॉर्ड मिल सकता है। जैसे ही ब्रिटिश दंपती ने हाथ से लिखा हुआ स्वास्थ्य शाखा से जन्म का रिकॉर्ड देखा तो वो हैरान हो गए। रिकॉर्ड की जानकारी के अनुसार 22 सितंबर 1914 को जेलियन की मां का शिमला में जन्म हुआ था।

जानकारी के अनुसार जेलियन के नाना शिमला में कैप्टन थे। कहा जा रहा की जेलियन के पास शहर के एक भवन का नाम भी था, जहां उसकी मां रहती थी। जेलियन को अपनी मां का पुराना घर तो नहीं मिल पाया मगर याद के तौर पर जन्म प्रमाण पत्र जरूर मिल गया। नगर निगम के पास साल 1870 से लेकर जन्म और मृत्यु का रिकॉर्ड मौजूद है। यह एक बहुत ही हैरान कर देने वाला रिकार्ड सामने आया है।

Related posts

बिना सैनेटाइज के हिमाचल प्रदेश में बाहर से आने वाले वाहनों पर लगेगी रोक, प्रवेश द्वारा पर होगी जांच

Ekta Rana

हिमाचल का आशीष चौधरी दिखायेगा, ओलंपिक में अपना दम ख़म,

Siddhartha Negi