Himachal News Kangra

हिमाचल प्रदेश के जिला काँगड़ा के धर्मशाला में युवक का सिर धड़ से अलग

dharmshala

हिमाचल प्रदेश के लोकप्रिय पर्टयक स्थान मकलोडगंज बाइपास के पास संदिग्ध शव मिलने से क्षेत्र में सनसनी फैल गई। प्राप्त जानकारी के अनुसार एक युवक का शव का धड़ वन निगम कार्यालय के पास नाली में पड़ा हुआ था। जबकि सर के ऊपर का हिस्सा धर्मशाला के चीलगाड़ी में मिला है।

जानकारी के अनुसार मृतक की टैक्सी गाड़ी लगभग डेढ़ किलोमीटर की दूरी पर सुधेड़ के मैदान में क्षतिग्रस्त हालत में पाई गयी है। इससे पहले आधी रात को मृतक के साथी ने नशे की हालत में थाने में पहुंचकर बताया कि उनके वाहन की किसी अन्य वाहन से दुर्घटना हो गई है। गाडी बुरी तरह से श्रतिग्रष्त हो गयी है।

नाली में टैक्सी चालक का संदिग्ध परिस्थितियों में शव मिला

धर्मशाला में मिला युवक का शव व गाड़ी उसने नशे की हालत में पता नहीं कहां छोड़ दिए हैं। इस जानकारी के अनुसार पुलिस रात से ही शव को तलाशने में जुटी रही लेकिन उनको शव कहीं भी नहीं मिल पाया। जबकि सोमवार की सुबह ही लोगों ने शव को बाइपास के पास नाली में पड़ा देखकर पुलिस को सूचित किया और पुलिस ने मौके पर पहुंच कर इसके बाद अब पुलिस सभी पहलुओं को खंगालने में जुटी हुई है।

मामले को पूरी तरह से इस की जांच की जा रही है। इसी दौरान जिस वाहन से दुर्घटना हुई है, उसे भी खोजने का प्रयास किया जा रहा है। जानकारी के अनुसार जिला मुख्यालय के धर्मशाला-चड़ी रोड पर वन निगम के कार्यालय के सामने सड़क किनारे नाली में टैक्सी चालक का संदिग्ध परिस्थितियों में शव मिला। जिस का आधा सर धड़ से अलग था।

सदर थाना धर्मशाला की टीम ने मौके पर पहुंच कर की जाँच शुरू

पुलिस को उस की जानकारी मिलते ही इसकी सूचना सदर थाना धर्मशाला की टीम भी मौके पर पहुंच गई तथा शव को अपने कब्जे में ले लिया। इस युवक के मृत शरीर की पहचान जसविंदर सिंह (31) उर्फ लामा निवासी सुधेड़ के रूप में की गयी है। इस पुरे मामले में पुलिस ने मृतक टैक्सी चालक के साथी राजीव थापा को गिरफ्तार किया है।

प्रारंभिक पूछताछ में मृतक के साथी ने बताया है कि रविवार शाम को वह चीलगाड़ी के जंगल में पार्टी करने गए थे और इसी पार्टी करने के उपरांत जब वे रात को वापस कार में घर के लिए आ रहे थे, तो उनकी कार को किसी अज्ञात वाहन ने जोरदार टक्कर मार दी और इस टक्कर से जसविंदर के सिर में गंभीर चोट आ गई थी। इसके साथ ही इस मामले की पूरी जांच की जा रही है।

सीसीटीवी की फूटेज खंगालने में जुटी है प्रदेश पुलिस

इस मृतक युवक का सिर फट गया था। इस भयानक दुर्घटना से वह सहम गया और घायल जसविंदर को लेकर चड़ी रोड पर आ गया। पुलिस को दिए बयान में राजीव ने बताया कि उसने चड़ी रोड पर वन निगम के कार्यालय के सामने जसविंदर के शव को फेंक दिया तथा टैक्सी को सुधेड़ गांव में जाकर खड़ा कर दिया।

साथ ही उसने अपने बयान में कहा है कि हादसा किस गाड़ी से हुआ, यह बात उसे याद नहीं है। मतक के साथी द्वारा दिए गए ब्यानों के आधार पर पुलिस ने चीलगाड़ी जंगल व शहीद स्मारक की ओर जाने वाली सड़क पर लगे सीसीटीवी कैमरों की फुटेज खंगालना शुरू कर दिया है।

फोरेंसिक रिपोर्ट के बाद ही रिपोर्ट सामने आएगी

इसी दौरान वहीं फोरेंसिक लैब की टीम ने भी तीनों घटना स्थलों का दौरा कर साक्ष्य जुटाए हैं और वारदात से मिले तथ्यों की जांच की जाँच की जा रही है। इस पुरे मामले और घटना से पुरे स्थान में सनसनी मच गयी है। अभी तक इस मामले की पुख्ता जानकारी नहीं मिल पायी है। सीसीटीवी और फोरेंसिक रिपोर्ट के बाद ही पूरी जानकारी मिल पाएगी। इसी दौरान इस मामले की पूरी रिपोर्ट पूरी रिपोर्ट के बाद ही सामने आएगी।

Man severely beheaded in Dharamsala, district Kangra, Himachal Pradesh

Related posts

प्रदेश के Pong Dam जलाश्य में Bird festival का किया बहुत बड़ा प्रबंध

Indu Bala

बेरोज़गारो के लिए नौकरी का सुनहरा मौका सोलन में औद्योगिक इकाइयों तथा निजी शिक्षण संस्थानों द्वारा 27 फरवरी को होंगे इंटरव्यू

Ganesh Sharma

इमरजेंसी के दौरान जेल में बिताये समय की यादे ताज़ा करने पहुंचे, प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री शांता कुमार

Niharika Banta