ऊना : बालिका आश्रम से भागी नाबालिग, अपने घर पहुंची

जिला कांगड़ा के गरली परागपुर में स्थित एक बालिका आश्रम से एक 14 वर्ष की नाबालिग लड़की आश्रम की दीवार फांदकर वहां से भाग गई
। जिसकी सूचना मिलते ही रक्कड़ पुलिस इस मामले की जांच में जुट गई। काफी खोजबीन के बाद पता चला कि नाबालिग बस से अपने घर पहुंच गई है, जो कि जला ऊना में है। ज्ञात सूत्रों के अनुसार इस नाबालिग लड़की को मानसिक तौर पर बीमार होने के कारण 15 जून 2019 को ऊना से यहां नाबालिग बालिका आश्रम लाया गया था। आश्रम प्रबंधन के अनुसार शनिवार सुबह जब साढ़े सात बजे के करीब सबकी हाजिरी लगाई गई थी तब नाबालिग लड़की मौजूद थी। लेकिन उसके बाद जब देखा गया तब नाबालिग लड़की आश्रम में नहीं थी, बाद में किसी से पता चला कि एक लड़की दिवार कूद कर गयी है जिस कि बजह आश्रम स्टाफ के हाथ पांव फूल गए।

लड़की के गम होने की रक्कड़ पुलिस को दी गई सूचना

जब आश्रम के स्टाफ ने जगह-जगह उसकी तलाश की, लेकिन लड़की का कोई भी सुराग नहीं मिला। जिसके चलते आश्रम प्रबंधन ने रक्कड़ पुलिस को इसकी सूचना दे दी। लड़की के इस तरह गम हो जाने की सूचना मिलते ही रक्कड़ पुलिस की टीम आश्रम पहुंची और नाबालिग की तलाश शुरू कर दी। इसी बीच जब पुलिस ने नाबालिग के घर संपर्क किया तब पता चला कि वह वहां पहुंच गई है। पुलिस के अनुसार नाबालिग किसी लोकल बस के द्वारा ऊना पहुंची है और उसके बाद वहां से अपने घर।

बालिका आश्रम प्रबंधन का आरोप उच्चाधिकारियों दीवार ऊंची करने बहुत बार किया था आग्रह

बालिका आश्रम प्रबंधन ने आरोप लगाया है कि कई बार उच्चाधिकारियों को आश्रम कि दीवार ऊंची करने के लिए कहा जा चुका है। लेकिन अब तक इस बाबत कोई कार्रवाई नहीं कि गयी है। यह तो अच्छी बात है कि नाबालिग सही सलामत अपने घर पहुंच गई, वरना कुछ भी हो सकता था । डीएसपी ज्वालामुखी तिलक राज ने बताया कि एक नाबालिग गरली बालिक आश्रम से गायब हो गई थी। उन्होंने कहा कि नाबालिग लड़की अपने घर ऊना पहुंच गई है, पुलिस ने आगे जांच शुरू आकर दी है ।

Abhijit Chauhan

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Next Post

हिमाचल में फिर से महंगी हुई शराब, जानिए कौन सा ब्रांड कितने में

Mon Jul 22 , 2019
हिमाचल प्रदेश सरकार ने प्रदेश में शराब के दामों में एक बार फिर बढ़ौतरी की है, जिस की अधिसूचना जारी […]